हैंडपंप: जिसके पानी में नहाने से लोग हो रहे गंजे, जानिए क्या है पूरा मामला

घटना मधुबनी की है कहा जाता है कि “जल ही जीवन है”। परंतु जल ही किसी परिवार के लिए परेशानी का सबब बन जाए तो इसे आप क्या कहेंगे। ऐसा एक मामला सामने आया है, बिहार के मधुबनी जिले के लदनिया प्रखंड में जहां एक हैंडपंप (चापानल) के पानी से नहाने से एक परिवार के सभी सदस्य गंजे हो गए। इधर जिला प्रशासन ने इस खबर के बाद हैंडपंप सीज कर दिया है। लदनिया के नाथ पट्टी गांव में दोपहर के समय घर के बाहर लगे हैंडपंप के पानी से एक ही परिवार के चार सदस्यों ने स्नान किया। शाम होते-होते परिवार के सभी सदस्य गंजे हो गए। प्रभावित सदस्यों में परिवार के मुखिया मोहम्मद हाशिम, पत्नी जय मून खातून, बेटी अफसाना खातून और पुत्र मोहम्मद हफीजुल शामिल है।

पीड़ितों ने बताया कि परिवार के सभी सदस्यों ने दोपहर के समय घर के हैंड पंप ( चापानल) के पानी से स्नान किया। इसके कुछ देर बाद ही सभी बाल आपस में चिपक गए और छूने के बाद हाथों में आ गए। शाम होते-होते बाल गायब हो गए। घर की महिला सदस्यों का न तो घर में रहते बन रहा है और नहीं बाहर निकलते। घर की महिला जय मून खातून कहती है, यह तो अच्छा हुआ कुछ दिन पहले ही बेटी की शादी हो गई वरना काफी परेशानी होती। शनिवार को इस घटना से प्रभावित लोगों को उपचार के लिए खुटौना भेजा गया, जहां उन्हें स्वस्थ पाया गया। पीएचसी प्रभारी ने बताया कि पानी को जांच के लिए भेजा गया है, रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा घटना का कारण क्या है।

आस पास के सभी लोग दहशत में

वही पीड़ित परिवार के साथ हुई यह घटना जंगल में आग की तरह फैल गई। इस घटना के बाद इलाके में दहशत है। लोगों का कहना है कि पता नहीं गांव में लगे किस हैंडपंप का पानी लोगों के लिए मुसीबत बन जाए, कुछ नहीं कहा जा सकता है।

लदनिया के प्रखंड विकास पदाधिकारी (बीडिओ) विमल कुमार व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक डॉ विजय शाह ने सोमवार को गांव पहुंचकर पीड़ित लोगों से पूछताछ की। बीडिओ विमल कुमार ने बताया बाल गिरने के कारण का अब तक पता नहीं चल पाया बहरहाल, गांव में इस घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चा हो रही है।

इसे भी पढ़े : –

Leave a Comment