Categories: देश

महाराष्ट्र के गृहमंत्री बोले- कंगना को मुंबई में रहने का कोई हक नहीं, एक्ट्रेस ने दिया मुंहतोड़ जवाब

महाराष्ट्र सरकार और कंगना रनौत के बीच चल रही तकरार को हवा देते हुए, राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने शुक्रवार को कहा कि ‘मुंबई पुलिस पर टिप्पणी करने के बाद उन्हें शहर में रहने का कोई अधिकार नहीं है।’

मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा-“महाराष्ट्र पुलिस और मुंबई पुलिस की तुलना आमतौर पर स्कॉटलैंड यार्ड से की जाती है। मुंबई पुलिस इकाई एक सक्षम बल है और ऐसा तब देखा गया जब वे कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लड़ी। 165 पुलिसकर्मियों की कोरोना के कारण मौत हुई है। अगर एक अभिनेत्री इस बल पर ऐसी टिप्पणी करती हैं तो हम इसकी निंदा करते हैं। जिन लोगों को मुंबई में रहना सुरक्षित नहीं लगता तो उन्हें मुंबई या महाराष्ट्र में रहने का कोई अधिकार नहीं है।”

कंगना ने अब तालिबान से की मुंबई की तुलना

महाराष्ट्र के गृहमंत्री के बयान पर पलटवार करते हुए, क्वीन अभिनेत्री ने लिखा कि वह ये देखकर चकित हो गई हैं कि कैसे एक ही दिन में मुंबई ‘पीओके से तालिबान तक’ प्रमोट हो गई।

इसके साथ ही अभिनेत्री ने एक फैन का पोस्ट भी साझा किया है जिसमें उनकी फिल्म मणिकर्णिका की क्लिप है। उसे शेयर करते हुए कंगना ने लिखा-”वो सारे चापलूस जो महाराष्ट्र के लिए अपना प्यार दिखा रहे हैं, उन्हें पता होना चाहिए कि हिंदी सिनेमा के इतिहास में मैं पहली अभिनेत्री और निर्देशक हूं जो मराठाओं के गौरव शिवाजी महाराज और रानी लक्षमीबाई को बड़े पर्दे पर लेकर आई। और रिलीज के वक्त मुझे इन्हीं लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा था।”

बता दें, शिवसेना के मुखपत्र सामना में राउत ने मुंबई पुलिस की आलोचना करने के लिए कंगना पर वार किया था और उनपर मुंबई में रहने और फिल्म इंडस्ट्री में काम करने के बावजूद पुलिस का ‘अपमान’ करने का आरोप लगाया था। साथ ही राउत ने अभिनेत्री को ‘मुंबई न आने की’ भी धमकी दे डाली थी। गौरतलब है कि सुशांत केस में मुंबई पुलिस की भूमिका को लेकर कई सितारों सहित कंगना ने भी सवाल उठाए थे।

जिसके बाद क्वीन स्टार कंगना रनौत ने ट्वीट कर कहा था कि ”शिवसेना नेता संजय राउत ने मुझे मुंबई न आने के लिए धमकी दी है। ऐसा क्यों है कि मुंबई ‘पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर’ की तरह लग रहा है ? पहले मुंबई की सड़कों में आजादी के नारे लगे और अब खुली धमकी मिल रही है। ये मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) की तरह क्यों लग रही है?”

bharat.republicworld.com

Leave a Comment