Categories: देश

LOC Firing: सीमा पर पाकिस्तान का दुस्साहस, गोलाबारी में भारतीय जवान को वीरगति

नई दिल्लीः वास्तविक नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान ने एक बार फिर से संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है. जिसका भारतीय पक्ष ने करारा जवाब दिया. लेकिन पाकिस्तान की तरफ से अचानक हुई गोलाबारी में भारतीय पक्ष से एक जवान को अपने जीवन की बलि देनी पड़ गई. 

एक जवान को वीरगति, दो घायल

पाकिस्तान (Pakistan) ने घाटी के नौगाम सेक्टर में भी शनिवार (5 सितंबर) को एलओसी (LoC) पर सीजफायर का उल्लंघन किया और चौकियों को निशाना बनाया है. पहले तो पाकिस्तान ने हल्के हथियारों का इस्तेमाल किया, उसके बाद मोर्टार जैसे बड़े हथियारों से गोलाबारी शुरू कर दी. बाद में भारतीय सेना ने भी जवाबी कार्रवाई कर पाकिस्तान की सेना को मुंहतोड़ जवाब दिया. इस घटना में इंडियन आर्मी के जवान भूपेंद्र सिंह शहीद हो गए हैं और 2 जवानों के घायल होने की सूचना है. इन दो जवानों के नाम वेंकटेशन और शैजल बताए जा रहे हैं. 

घटना को लेकर रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने कहा कि शनिवार सुबह करीब 9.15 बजे सीमापार से शाहपुर, किरनी और डेगवार सेक्टरों में गोलीबारी शुरू हुई. उन्होंने बताया कि नियंत्रण रेखा की रक्षा कर रहे भारतीय सैनिकों ने सीमापार से होने वाली गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है. 

आतंकियों के खिलाफ भी कार्रवाई

 जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) के कुपवाड़ा जिले में शनिवार (5 सितंबर) को सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ (Encounter) हो गई. पुलिस अधिकारी ने जानकारी दी कि उत्तरी कश्मीर के वारनॉउ इलाके के दाना बहक के जंगल में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना मिली है. इसके बाद ही सुरक्षाबलों ने घेराबंदी की और तलाशी अभियान चलाया. उन्होंने बताया कि तलाशी के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी की. 

आतंकियों की गोलीबारी में हमारे सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई. सेना की 28-आरआर (Rashtriya Rifles and Army Local Unit), एसओजी और सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) की संयुक्त टीम इस ऑपरेशन को अंजाम दे रही है. अधिकारी के मुताबिक घाटी के इस इलाके में दो से तीन आतंकियों के घिरे होने की आशंका है जिनकी खोजबीन की जा रही है. 

ये भी पढ़ें–चीन और पाकिस्तान मिलकर बना रहे हैं कोरोना जैसा खतरनाक वायरस 

zeenews.india.com

Leave a Comment