Categories: देश

पाकिस्तान से प्रताड़ित भारत आए हिन्दू परिवारों को मिली राहत, सरकार को दिया धन्यवाद

देश में रह रहे शरणार्थी परिवार जो प्रताड़ना की वजह से पाकिस्तान से भारत आ गए थे। नागरिकता संशोधन बिल के पास होने के बाद से उन्हें राहत की उम्मीद जगी है। हरियाणा से सिरसा जिले के ऐलनाबाद कस्बे में 22 वर्षों से रह रहे 12 परिवार भी इनमें शामिल हैं, जो होशियारपुर बॉर्डर से प्रवेश पर पंजाब होते हुए हरियाणा के ऐलनाबाद में रहने लगे थे। भारतीय नागरिकता ना होने के कारण उन्हें बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। उनके बच्चों की पढ़ाई बाधित हो रही थी। उन्हें सामान्य वर्ग में रखा जा रहा था, जिससे अनुसूचित जाति से मिलने वाला लाभ भी नहीं मिल रहा था। जिसके कारण सरकार से सहायता नहीं मिल रही थी और उनके बच्चों को अपनी पढ़ाई भी छोड़नी पड़ी थी।

यह परिवार अनुसूचित जाति के धानक समाज से ताल्लुक रखते हैं, जो बंटवारे के बाद पाकिस्तान वाले पंजाब के हिस्से में 1997 से पहले रहा करते थे। ऐलनाबाद आने के बाद इन परिवारों में से कई तो मजदूरी का काम करते हैं और कई कढा़ई का काम भी करते हैं। उनका कहना है कि वह किसी कीमत पर लौट कर पाकिस्तान वापस नहीं जाएंगे। 1947 में चाहे देश का बंटवारा हो गया लेकिन पाकिस्तान के हिस्से वाले पंजाब में बहुत सारे ऐसे परिवार हैं। जिनकी रिश्तेदारी वर्तमान भारत के पंजाब और हरियाणा में है। इसलिए ऐसे परिवार जो ज्यादातर हिंदू है, पाकिस्तान में प्रताड़ना झेलने के बाद भारत आ गए थे।

अब नागरिकता संशोधन बिल के पास होने के बाद उनको उम्मीद है कि भारत का नागरिक बन पाएंगे। साथ ही भारत में इज्जत से अपनी जिंदगी व्यतीत कर पाएंगे। इस बिल के पास होने के बाद वह बहुत खुश है तथा अपनी खुशी का इज़हार एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर कर रहे हैं। एक युवक की शादी भारत आने के बाद हुई। उसकी पत्नी भारतीय नागरिक है जबकि खुद पाकिस्तानी दिखाया जा रहा है। जिससे उन्हें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अब राज्यसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक बिल के पारित होने के बाद ऐलनाबाद में पाकिस्तान से आए लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह का धन्यवाद किया।

Leave a Comment