Categories: देश

अमित शाह की सुरक्षा में चूक: सभा में पिस्टल लेकर पहुंचा पूर्व जवान, जाने आगे क्या हुआ

कोलकाता: संशोधित नागरिकता कानून (CAA) पर पश्चिम बंगाल समेत पूरे देश का भ्रम दूर करेंगे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह। इसके लिए वह रविवार को 1 दिन के कोलकाता दौरे पर आएंगे। CAA पर “भ्रम दूर करने” के लिए शाह एक रैली को संबोधित करेंगे। प्रदेश BJP के एक नेता ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस सरकार ने CAA पर भ्रम पैदा कर दिया है। अमित शाह इस भ्रम को दूर करेंगे। उन्होंने कहा कि शाह बंद कमरे में नड्डा और BJP के पदाधिकारियों के साथ चर्चा करेंगे और आगामी नगर निकाय चुनाव को लेकर रणनीति तैयार करेंगे।

सूत्रों ने बताया कि गृहमंत्री शहीद मीनार मैदान में रैली को संबोधित करेंगे। जहां BJP की राज्य इकाई संसद में नागरिकता (संशोधन) विधेयक पारित को लेकर उनका अभिनंदन करेगी। BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी रैली में शामिल होंगे।शाह का राजरहाट में NSG की एक नई इमारत का उद्घाटन करने का भी कार्यक्रम है। वह प्रदेश BJP नेतृत्व तथा नड्डा के साथ बंद कमरे में बैठक भी करेंगे। इस संबंध में एक सूत्र ने कहा कि शाह का प्रसिद्ध कालीघाट मंदिर जाने का भी कार्यक्रम है।

इस संबंध में एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने हवाई अड्डे से गंतव्य तक शाह के मार्ग पर सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए हैं। विपक्षी दल मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने शाह की यात्रा के दौरान विरोध प्रदर्शन करने का फैसला किया है।

  • 1:15 PM: ग्रांड होटल के सामने प्रदर्शन ,अमित शाह को काला झंडा दिखाने का हुआ प्रयास।
  • 1.52:PM: अमित शाह की सभा में पिस्टल लेकर पहुंचा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) का पूर्व जवान। सुरक्षा में तैनात पुलिस बल के जवानों ने बाहर निकाला।
  • 11.40:AM: CAAपर लोगों का भ्रम दूर करने पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का जबरदस्त विरोध हुआ।

सुबह 11 बजे एयरपोर्ट पहुंचे। अमित शाह का सबसे पहले यहां के एक नंबर गेट पर विरोध हुआ। इसके बाद पाक सर्कल यादवपुर समेत कई जगहों पर विपक्षी दलों और CAA के खिलाफ आंदोलन कर रहे लोगों ने गृह मंत्री के खिलाफ प्रदर्शन किया। वामदलों के छात्र संगठन स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (SFI) और अन्य संगठनों ने गृहमंत्री को एयरपोर्ट के पास काले झंडे दिखाए। कम से कम 10 संगठनों ने अमित शाह के खिलाफ प्रदर्शन की तैयारी कर रखी है।

अमित शाह जब शहीद मीनार में रैली को संबोधित करने जाएंगे, उस वक्त भी कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, वाम दल, नक्सलवादी संगठनों के अलावा विभिन्न राजनीतिक दल और छात्र संगठन ने गृहमंत्री को काला झंडा दिखाने की तैयारी कर रखी है। हालांकि पुलिस भी प्रदर्शनकारियों से निपटने के लिए पूरी तरह से मुस्तैद है।

Leave a Comment