Categories: देश

बच्चों को अगवा करने के मामले में स्वयंभू बाबा स्वामी नित्यानंद की तलाश तेज आश्रम से दो महिलाएं गिरफ्तार

गुजरात पुलिस ने गुरुवार को बताया कि स्वयंभू बाबा नित्यानंद देश छोड़कर भाग गया है। नित्यानंद के खिलाफ फौजदारी मामला दर्ज है। मामले में उसके खिलाफ सबूत जुटाने के लिए पुलिस ने उसकी दो महिला अनुयायियों को भी गिरफ्तार किया है। उन पर आरोप है कि अपना योगीनि सर्वज्ञ पीठम आश्रम चलाने के लिए बच्चों का अपहरण कर उनसे श्रद्धालुओं से चंदा जुटाने के लिए मजबूर करता था। वही अहमदाबाद के बाहरी इलाके में हीरापुर गांव में स्थित दिल्ली पब्लिक स्कूल के पूर्व प्रिंसिपल हितेश पुरी को भी नित्यानंद ने आश्रम के लिए जमीन देने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने मंगलवार को उसकी दो महिला अनुयायियों साध्वी प्रियानंद और प्रियातत्व रिद्धि करण को भी गिरफ्तार किया था। दोनों पर कम से कम 4 बच्चों को कथित तौर पर अगवा करने और उन्हें एक फ्लेट में बंधक बनाकर रखने का आरोप है। अहमदाबाद ग्रामीण के एसपीआरवी अंसारी ने बताया कि नित्यानंद देश छोड़कर भाग गया है। जरूरत पड़ी तो गुजरात पुलिस उचित माध्यम के जरिए विदेश में उसकी हिरासत हांसिल करेगी। कर्नाटक में अपने खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज होने के बाद नित्यानंद देश छोड़कर भाग गया है और उसे ढूंढना समय की बर्बादी है अगर वह भारत लौटता है तो हम उसे जरूर गिरफ्तार करेंगे।

ग्रामीण अदालत ने बुधवार शाम को 5 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया था और पुलिस उपाधीक्षक (अहमदाबाद ग्रामीण) के. टी कामरिया उनसे पूछताछ कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस नित्यानंद के आश्रम से लापता हुई एक महिला के मामले में भी जांच चल रही है। महिला के पिता जनार्दन शर्मा ने विवेकानंद पुलिस थाने में लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी। इस बीच गुजरात के गृह मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने कहा कि मामले की जांच की जाएगी और किसी भी शख्स को बख्शा नहीं जाएगा। जडेजा ने कहा, “डीजीपी ने मामले की गहन जांच के लिए संबंधित एसपी से एक टीम का गठन करने को कहा है और मामले में संलिप्त हर व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।” वहीं पुलिस उपाधीक के.टी कामरिया ने बताया, “नित्यानंद के आश्रम से सर्च ऑपरेशन चलाया। वहां से 4 लैपटॉप, 43 टेबलेट, पेनड्राइव और कई मोबाइल जप्त किए हैं। हम फिलहाल नित्यानंद की तलाश कर रहे हैं। पहले हम गिरफ्तार की गई अनुयायियों से पूछेंगे, सबूत जुटाएंगे, फिर आगे की कार्यवाही करेंगे।”

गुजरात हाईकोर्ट ने बुधवार को जनार्दन शर्मा की याचिका पर गुजरात सरकार पुलिस, महानिदेशक, पुलिस अधिकारियों, बाल कल्याण समिति अध्यक्ष और स्वामी नित्यानंद को नोटिस जारी कर जवाब मांगा। शर्मा ने याचिका में कहा पुलिस ने उनकी दो बेटियों को तो मुक्त करा दिया। लेकिन उनकी बड़ी बेटी लोपमुद्रा( 21) और नंदिता शर्मा(18) अभी भी लापता है। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड में अहमदाबाद में स्वयंभू बाबा नित्यानंद के आश्रम के लिए स्कूल की जमीन बिना अनुमति पट्टे पर देने के मामले में गुजरात शिक्षा विभाग से रिपोर्ट मांगी है। एक अधिकारी ने बताया कि कोर्ट ने मामले में जांच करने के लिए राज्य शिक्षा विभाग को पत्र लिखा है और राज्य विभाग द्वारा जारी की गई एनओसी की स्थिति से अवगत कराने को कहा।

खबर है कि नित्यानंद त्रिनिदाद एंड टोबैगो में है। हालांकि विदेश मंत्रालय ने उसके प्रत्यर्पण के अनुरोध या किसी भी जानकारी से इनकार किया है। मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, “हमारे पास कोई औपचारिक जानकारी नहीं है, नहीं गुजरात पुलिस और नहीं गृह मंत्रालय से। इसके अलावा किसी भी प्रत्यर्पण अनुरोध के लिए हमें उस व्यक्ति के स्थान और राष्ट्रीयता के विवरण की जरूरत होगी और हमारे पास अभी तक उसके बारे में कोई जानकारी नहीं है”।

Leave a Comment