Categories: Uncategorized

BMC की ओर से की गई तोड़फोड़ का मुआयना करने अपने ऑफिस पहंची कंगना रनौत, याचिका पर सुनवाई 22 सितंबर तक टली

बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई टलने के बाद कंगना गुरुवार को घर से निकलकर अपने ऑफिस का हाल देखने पहुंचीं। कंगना ने वहां तोड़फोड़ का जायजा लिया। बीएमसी की ओर से की गई तोड़फोड़ का मुआयना करने के बाद कंगना रनौत वापस घर लौट गई हैं। 

दरअसल, बॉम्बे हाई कोर्ट ने गुरुवार को बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत की याचिका पर 22 सितंबर तक सुनवाई टाल दी है। बता दें कि कंगना ने बुधवार को अपने ऑफिस को ध्वस्त करने को लेकर BMC के खिलाफ याचिका दर्ज कराई थी। हाई कोर्ट ने कहा कि उनके द्वारा तोड़फोड़ पर तत्काल रोक लगाने का आदेश अगली सुनवाई तक जारी रहेगा। 

कंगना मामले में जस्टिस एसजे कथावाला और आरआई छागला की बेंच ने कंगना रनौत को 14 सितंबर तक संशोधित याचिका दायर करने का निर्देश दिया है और BMC को 18 सितंबर तक जवाब दाखिल करने को कहा है।

अभिनेत्री के वकील रिज़वान सिद्दीकी ने गुरुवार को बेंच से कुछ समय देने का आग्रह किया क्योंकि उन्हें BMC के हलफनामे का जवाब दाखिल करने के लिए याचिका में संशोधन करने की ज़रूरत है। दूसरी ओर, BMC के वकील जोएल कार्लोस ने कहा कि याचिकाकर्ता (कंगना) के पास ये कोई मामला नहीं है कि उनकी बिल्डिंग को मंजूरी दी गई है और निर्माण अनुमति से हुआ है। BMC ने बेंच से एक आदेश पारित करने का भी आग्रह किया जिसमें कहा गया है कि जबतक विध्वंस पर रोक है, बॉलीवुड अभिनेत्री कोई निर्माण नहीं कर सकती जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है।

अभिनेत्री (33) बुधवार को ही अपने गृह राज्य हिमाचल प्रदेश से मुम्बई लौटी हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि शिवसेना से टकराव के कारण महाराष्ट्र सरकार उन्हें निशाना बना रही है।

शिवसेना नीत बीएमसी ने बुधवार को अभिनेत्री के बांद्रा स्थित बंगले में किए गए कुछ अवैध निर्माण को तोड़ दिया था। हालांकि बंबई उच्च न्यायालय ने बाद में प्रक्रिया पर रोक लगाने का आदेश दिया था।

इसके बाद, कंगना ने अपने सोशल मीडिया पर पोस्ट किये गये एक वीडियो संदेश में शिवसेना प्रमुख एवं मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘उद्धव ठाकरे, तुझे क्या लगता है कि तूने फिल्म माफिया के साथ मिलके मेरा घर तोड़ के मुझसे बहुत बड़ा बदला लिया है…आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा, यह वक्त का पहिया है, याद रखना हमेशा एक जैसा नहीं रहता।’’

उन्होंने वीडियो में कहा, ‘‘…उद्धव ठाकरे ये जो क्रूरता, ये जो आतंक है, अच्छा हुआ मेरे साथ हुआ क्योंकि इसके कुछ मायने हैं। ’’



bharat.republicworld.com

Leave a Comment