Categories: Uncategorized

कंगना रनौत ने किया #CantBlockRepublic का समर्थन, शेयर किया अर्नब का बयान

रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के रिपोर्टर अनुज कुमार, वीडियो जर्नलिस्ट यशपालजीत सिंह और ओला कैब ड्राइवर प्रदीप दिलीप धनावड़े को महाराष्ट्र पुलिस द्वारा गैरकानूनी तरीके से गिरफ्तार किया गया है। जिसपर बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने शुक्रवार को रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क को अपना समर्थन जताया है। अनुज पिछले तीन दिनों से जेल में हैं।

गिरफ्तार की गई टीम को कानूनी मदद देने से इंकार कर दिया गया है। रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क को अब पता चला है कि अनुज से अपने सूत्रों और कहानी का खुलासा करवाने के लिए जबरन पूछताछ की जा रही है। महाराष्ट्र पुलिस ने रिपब्लिक की टीम को तब जेल में डाला जब ये टीम एक स्टोरी के सिलसिले में सुराग का पता लगाते हुए रायगढ़ के कर्जत गई थी।

अनुज को गुरुवार को मेडिकल टेस्ट के लिए ले जाया गया था और उनके हिरासत के बाद से महाराष्ट्र पुलिस द्वारा उन्हें जबरन पूछताछ के लिए रखा गया है। इसके साथ-साथ, अपनी डराने की रणनीति को कायम रखते हुए, शिवसेना के ग्रुप शिव केबल सेना ने महाराष्ट्र के सभी केबल ऑपरेटरों को रिपब्लिक टीवी और रिपब्लिक भारत को बैन करने का आदेश दिया है। ये आदेश संजय राउत के भाई सुनील राउत ने साइन किया है और संजय राउत इस संगठन के ‘प्रमुख मार्गदर्शक’ हैं।

ये भी पढ़ेंः शिवसेना द्वारा रिपब्लिक को ब्लॉक करने की कोशिश पर अर्नब का जवाब, लोगों से मांगा समर्थन

क्यों रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के क्रू को छोड़ देना चाहिए?

डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ इंडिया में संविधान का अनुच्छेद 19 (A) हर नागरिक को ये मौलिक अधिकार देता है कि वो स्वतंत्रता के साथ कहीं भी आए-जाए। इसी तरह संविधान का अनुच्छेद 21 ये अधिकार देता है कि देश के किसी भी नागरिक को उसकी निजी स्वतंत्रता से गैरकानूनी तरीके से वंचित नहीं किया जा सकता है। नागरिकों को जानने का अधिकार है और पत्रकारों को रिपोर्ट करने और खबरें पहुंचाने का अधिकार है। लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर अपने दर्शकों तक पहुंचने के लिए कोई धमकी काम नहीं आएगी।

 



bharat.republicworld.com

Leave a Comment